जगदलपुर 
छत्तीसगढ़ के जगदलपुर जिले में बुधवार को ग्रामीणों ने पैदल मार्च निकाला. ग्रामीणों ने जेल में बंद दो किसानों को रिहा करने की मांग की. ग्रामीणों ने प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री से इस मामले में सज्ञान लेने की मांग की है साथ ही किसानों के रिहा करने की भी गुहार लगाई है. बताया जा रहा है कि बस्तर से किसानों ने पैदल मार्च निकाला है. पैदल मार्च निकालकर ग्रामीणों ने सरकार को चेतावनी भी दी है. किसानों की रिहाई नहीं होने पर जगदलपुर में भूख हड़ताल करने का ऐलान किया है. इस पैदन मार्च में काफी संख्या में ग्रामीण शामिल हुए और किसानों को रिहा करने का नारा भी लगाया.

कर्ज के चलते किसानों को जेल की सजा होने की शिकायत बस्तर ब्लॉक के दो किसानों के परिवार ने जगदलपुर कलेक्ट्रेट पहुंचकर शिकायत दर्ज कराई थी. जानकारी के मुताबिक पीड़ित किसानों को एजेंटों द्वारा खेत में ड्रिप कराने के नाम से बैंक से लोन दिलवा दिया गया था. पर अशिक्षित किसानों को ये नहीं मालूम था कि उन्हे फंसाया जा रहा है. 40 हजार हाथ में देकर उन्हे 4 लाख रुपए का कर्जदार बनाया गया. वहीं एक किसान को तो मात्र 60 हजार देकर 10 लाख का कर्जदार बना दिया गया. बैंक से लगातार किसानों को लोन अदा करने के लिए नोटिस दिया गया लेकिन किसानों को जब पता चला की उनका कर्ज लाखों में है तो उनके होश उड़ गए. उसके बाद बैंक द्वारा चेक बाउंस को लेकर उन्हे पेशी में बुलाया गया और उन्हे जेल भेज दिया गया. इस बात की जानकारी लगने के बाद पीड़ित किसानों के परिवार ने बस्तर कलेक्टर से किसानों की रिहाई की गुहार लगाई थी.

Source : Agency