भोपाल 
दिल्ली से सटे गाजियाबाद स्थित इंस्टीट्यूट ऑफ मैंनेजमेंट टेक्नोलॉजी (IMT) पर जल्द ही केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) का शिकंजा कस सकता है. जानकारी के मुताबिक, अवैध जमीन कब्जा करने और लाजपत राय कॉलेज के लिए आवंटित भूमि पर धोखे से आईएमटी का निर्माण करने के आरोपों के मद्देनज़र उत्तर प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक ने सीबीआई जांच कराने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पत्र लिखा है.

दरअसल, बीजेपी के वरिष्ठ नेता और निगम पार्षद राजेंद्र त्यागी ने शिकायत कर राज्यपाल राम नाईक से मामले की कैग और सीबीआई से जांच की मांग की थी. पूरा मामला मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ से जुड़ गया है, क्योंकि उनके बेटे नकुल नाथ देश के नामी मैनेजमेंट संस्थान आईएमटी के प्रेसिडेंट हैं.

वहीं, चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय मेरठ ने लाजपत राय कॉलेज की जमीन पर आईएमटी बनने की शिकायत पर संज्ञान लेते हुए मामले की जांच करने के लिए चार सदस्य कमेटी का गठन कर दिया है. इस कमेटी में क्षेत्रीय उच्च शिक्षा अधिकारी डॉ. राजीव गुप्ता, विश्वविद्यालय सहायक कुलसचिव डॉ. संजीव कुमार, डीएवी कॉलेज मुजफ्फरनगर के पूर्व प्राचार्य डॉ. बीके त्यागी और डीएन कॉलेज मेरठ के पूर्व प्राचार्य डॉ. वीके अग्रवाल शामिल हैं. कहा जा रहा है कि गाजियाबाद विकास प्राधिकरण (जीडीए) की जांच में जमीन पर अवैध कब्जा होने की पुष्टि हो चुकी है.

बताते चलें कि मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के पिता महेंद्र नाथ द्वारा स्थापित किया गया था. सीएम कमलनाथ भी इसके डायरेक्टर रह चुके हैं.

Source : Agency