नई दिल्ली 

प्रचंड जीत के बाद नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री के रूप में अपने दूसरे कार्यकाल की शुरुआत करने जा रहे हैं. सूत्रों के हवाले से खबर है कि 17वीं लोकसभा का पहला संसद सत्र 5 जून से शुरू हो सकता है. पहला सत्र 5 से 15 जून तक चलने की संभावना है. इसमें सभी सांसदों को प्रोटेम स्पीकर के द्वारा शपथ दिलाई जाएगी.

सबसे वरिष्ठ सांसद को बनाया जाता है प्रोटेम स्पीकर

प्रोटेम स्पीकर सबसे वरिष्ठ सांसद (उम्र में सबसे ज्यादा) को बनाया जाता है. इसके बाद लोकसभा स्पीकर और डिप्टी स्पीकर का चुनाव होगा. ये लोकसभा में परम्परा रही है कि स्पीकर के पद पर सत्ता पक्ष का सांसद और डिप्टी स्पीकर के पद विपक्षी दलों में किसी सांसद को जाता है. 16वीं लोकसभा में स्पीकर बीजेपी सांसद सुमित्रा महाजन थीं और डिप्टी स्पीकर एआईएडीएमके के सांसद थम्बी दौरई थे.

बता दें कि शनिवार को नरेंद्र मोदी को एनडीए के संसदीय दल का नेता चुना गया. नए सांसदों और अन्य नेताओं को नरेंद्र मोदी ने 75 मिनट का भाषण दिया. इसके बाद एनडीए के नेताओं ने राष्ट्रपति भवन जाकर समर्थन पत्र राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को सौंपा. कुछ देर बाद मोदी भी राष्ट्रपति कोविंद से मुलाकात करने पहुंचे थे. इस दौरान राष्ट्रपति कोविंद ने मोदी को प्रधानमंत्री नियुक्त करते हुए केंद्र में नई सरकार बनाने का न्योता देकर मंत्रिपरिषद् और शपथ ग्रहण की डेट तय करने को कहा था.

नरेंद्र मोदी को बधाई देने का सिलसिला जारी

लोकसभा चुनाव में प्रचंड जीत के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को दुनियाभर से मिल रहे बधाई संदेशों का सिलसिला तीन दिन बाद भी जारी है. सऊदी अरब के वली-अहद (युवराज) मोहम्मद बिन-सलमान, कतर के अमीर शेख तमीत बिन-हमद अल-थानी, जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्केल, ब्रिटेन की प्रधानमंत्री टेरेसा मे और श्रीलंका के पूर्व राष्ट्रपति महिन्दा राजपक्षे ने प्रधानमंत्री मोदी को फोन कर बधाई दी. पीएमओ से जारी बयान के मुताबिक, इन सभी विदेशी राजनीतिक हस्तियों ने शनिवार को मोदी से फोन पर बात की.

Source : Agency