भोपाल
वन सचिव कैप्टन अनिल खरे सहित छह आईएफएस अपर प्रधान मुख्य वन संरक्षक बनेंगे। वहीं एपीसीसीएफ एबी गुप्ता के साथ आठ अधिकारी पीसीसीएफ बनाये जायेंगे। पिछले दिनों हुई सभी पदों के लिये डीपीसी की नोटशीट पर मुख्यमंत्री कमलनाथ ने हस्ताक्षर कर दिये हैं। संभावना है कि अगले सप्ताह तक पदोन्नति आदेश जारी कर दिये जायेंगे। वन विभाग में मैदानी पोस्टिंग के लिये भी कार्रवाई शुरू हो गई है। वन वल प्रमुख जेके मोहंती और वन मंत्री उमंग सिंघार के बीच औपचारिक चर्चा के बाद प्रस्ताव तैयार किये जायेंगे। पदोन्नति और पदस्थापना संबंधी करीब पचास आईएफएस अफसरों की लिस्ट जारी होने की संभावना है।

मुख्य वन संरक्षक से अपर प्रधान मुख्य वन संरक्षक पद के लिये 1992 बैच के पुरुषोत्तम धीमान, प्रदीप वासुदेव और समिता राजौरा, 1993 वैच के मनोज अग्रवाल, शशि मलिक, मुद्रिका सिंह, कैप्टन अनिल खरे, मोहनलाल मीना और बिंदु शर्मा के नामों को हरी झंडी मिल गई है। जबकि एपीसीसीएफ पद पर 1986 बैच के एबी गुप्ता, आरके गुप्ता, अभय पाटिल, अनिल श्रीवास्तव, डॉ.पीसी दुबे, आलोक कुमार, बीबी सिंह और महेंदु यादवेन्दु योग्य पाये गये हैं।  पीसीसीएफ का एक पद जुलाई में रिक्त होगा।

सीसीएफ की पोस्टिंग को लेकर विभाग परेशान है। दरअसल, प्रदेश में सीसीएफ स्तर के अधिकारियों के वेहद कमी हैं। ऐसे में एक सीसीएफ को तीन तीन प्रभार देना पड़ रहे हैं। बालाघाट, छतरपुर और सागर वृत्त प्रभार पर चल रहे हैं। बांधवगढ़ राष्ट्रीय पार्क में दो माह से फील्ड डायरेक्टर नहीं है। खंडवा के सीसीएफ के पास सामान्य, कार्ययोजना और अनुसंधान एवं विस्तार का प्रभार है। शिवपुरी सीसीएफ के पास माधव नेशनल पार्क और ग्वालियर सीसीएफ के पास वाइल्ड लाइफ और अनुसंधान एवं विस्तार सीसीएफ का प्रभार है।

Source : Agency