बीजापुर
 नक्सलियों ने जन अदालत लगाकर दो ग्रामीणों की हत्या कर दी। दोनों ग्रामीणों पर पुलिस का मुखबिर होने का नक्सलियों को संदेह था। दरअसल, पिछले दिनों पुलिस ने बेदरे थाना क्षेत्र से नक्सलियों के संगम सदस्यों को गिरफ्तार किया था। नक्सलियों को शक था कि इन्हीं दोनों ग्रामीणों ने पुलिस से मुखबिरी की है। नक्सलियों के डर से ग्रामीण चार दिनों तक चुप बैठे रहे।
एक ग्रामीण का मिला शव, दूसरे के बारे में नक्सलियों के डर से है खामोशी

    जानकारी के मुताबिक, पिछले दिनों पुलिस ने बेदरे थाना क्षेत्र से नक्सलियों के संगठन संगम सदस्यों को गिरफ्तार किया था। इसके बाद क्षेत्र से 21 जून को दो ग्रामीण गायब हो गए। नक्सलियों ने उनका अपहरण कर लिया और फिर जनअदालत लगाकर उनकी हत्या कर दी। नक्सलियों को ग्रामीणों पर संगम सदस्यों के बारे में पुलिस को जानकारी देने का शक था।

    फिलहाल मारे गए एक ग्रामीण का शव बरामद हो गया है। ग्रामीणों ने उसके मिलने के बाद अब पुलिस को सूचना दी है। जबकि लापता दूसरे ग्रामीण को लेकर नक्सलियों के डर से ग्रामीण कुछ भी बोलने से बच रहे हैं। बीजापुर का यह इलाका घोर नक्सल प्रभावित है। आए दिन नक्सली यहां निर्माण कार्यों में लगे वाहनों में आगजनी करते रहते हैं। फिलहाल पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

Source : Agency