दंतेवाड़ा
छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा में विधायक भीमा मंडावी की नक्सलियों द्वारा हत्या किए जाने के मामले में हाई कोर्ट ने एक अहम आदेश दिए हैं. बिलासपुर हाई कोर्ट ने मामलें में राज्य सरकार की जांच पर रोक लगा दी है. एनआईए की ओर से लगाई गई याचिका पर सुनवाई के बाद कोर्ट ने ये निर्णय दिया है. एनआईए का आरोप था कि राज्य पुलिस घटना से संबंधित जानकारी एनआईए को नहीं दे रही थी.

हाई कोर्ट जस्टिस प्रशांत मिश्रा की कोर्ट में सुनवाई के बाद ये निर्णय दिया गया है. भीमा मंडावी की हत्या मामले में केन्द्र सरकार ने एनआईए को जांच का जिम्मा सौंपा था. लेकिन राज्य सरकार द्वारा मामले में अलग से जांच की जा रही थी. अब मामले में एनआईए ही जांच करेगी. बता दें कि लोकसभा चुनाव के ऐन पहले 9 अप्रैल को दंतेवाड़ा के नकुलनार में नक्सलियों ने विधायक ​भीमा मंडावी के काफिले को आईईडी ब्लास्ट कर उड़ा दिया था. इसमें भीमा मंडावी सहित पांच की मौत हो गई थी.

Source : Agency