नयी दिल्ली
ब्राजील में नेमार जूनियर फाइव ए साइड विश्व फाइनल में दुनिया की दो सबसे दमदार फाइव-ए-साइड फुटबॉल टीमों को विजेता चुना गया जिसके लिये स्टार फुटबालर नेमार मौजूद रहे। कोपा अमेरिका में लगी चोट के बाद नेमार ने पहली बार मैदान में कदम रखा। इंस्टीट््यूटो प्रोजेटो नेमार जूनियर में 12-13 जुलाई को वर्ल्ड फाइनल्स में जबरदस्त भिडंत के बाद हंगरी (मिश्रित) और स्लोवाकिया (महिला) शीर्ष पर रहे। रेड बुल नेमार जूनियर्स फाइव दुनिया का सबसे बड़ा फाइव-ए-साइड फुटबॉल टूर्नामेंट है। रेड बुल नेमार जूनियर्स फाइव 2019 की भारतीय चैंपियन टीम मुंबई की कलिना रेंजर्स ने ब्राजील में विश्व फाइनल में देश का प्रतिनिधित्व किया और हंगरी के खिलाफ ऐतिहासिक जीत दर्ज करते हुए बेशकीमती तजुर्बा हासिल किया। गौरतलब है कि हंगरी की टीम ही आगे जाकर टूर्नामेंट की विजेता बनी। दुर्भाग्य से लक्जमबर्ग के साथ बराबरी पर छूटने और स्पेन तथा अंगोला के खिलाफ दिल तोड़ने वाली हार के साथ भारतीय टीम का टूर्नामेंट में सफर ग्रुप स्टेज में ही खत्म हो गया था। इसके पहले एंथनी मचाडो, टायसन पेरीरा, हैंडरसन डियास, रेयान शेख, क्रेग डिसूजा, मेल्विन बारबोजा और चार्नेल डी’अल्मीडा की टीम ने कोलकाता में रेड बुल नेमार जूनियर्स फाइव का राष्ट्रीय फाइनल जीता था। 
 

Source : Agency