भोपाल

स्वास्थ्य मंत्रीतुलसी राम सिलावट ने हेल्थ एण्ड वेलनेस के तहत् असंचारी रोगों की स्क्रीनिंग के लिये 'निरोगी काया' अभियान का प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र रातीबड़ में शुभारंभ किया। इस मौके पर मिशन संचालक एन.एच.एच. मध्यप्रदेश श्रीमति छवि भारतद्वाज भी उपस्थित थीं।

मंत्रीसिलावट ने असंचारी रोगों जैसे कैंसर, डायबिटीज, हाईपरटेंशन की जानकारी, बचाव और उपचार के लिये इस अभियान को मील का पत्थर बताया। उन्होंने कहा कि ये बीमारिया न केवल घातक होती हैं वरन् इन बीमारियों से पीड़ित व्यक्तियों की कार्यक्षमता भी प्रभावित होती है। इसलिये जरूरी है कि जल्द से जल्द इन बीमारियों की पहचान कर समुचित उपचार लिया जाए। हेल्थ एण्ड वेलनेस के अंतर्गत उपस्वास्थ्य केन्द्रों एवं प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों में असंचारी रोगों के उपचार के लिये जाँच एवं दवाईयों की उपलब्धता सुनिश्चित की गई है। साथ ही खान-पान एवं योग संबंधी जीवन शैली पर परामर्श की सुविधा भी दी जा रही है। आशा कार्यकर्ताओं द्वारा 30 वर्ष से अधिक आयु के सभी लोगों का सर्वे किया जा रहा है। इसकी स्क्रीनिंग ए.एन.एम. द्वारा आज से प्रारंभ कर दी गई है। समस्त मरीज जो असंचारी रोगों के संभावित पीड़ित होंगे, उनका प्रत्येक बुधवार को एन.सी.डी. क्लीनिक में उपचार किया जायेगा।

मंत्रीसिलावट ने कहा कि बीमारियों का प्रमुख कारण हमारा खान-पान है। इसलिये शासन द्वारा मिलावट रहित शुद्ध खान-पान के लिये समुचित कार्यवाही निरंतर की जा रही है। उन्होंने लोगों से आग्रह किया कि वे इस अभियान में अपनी सहभागिता दिखाएँ और सर्वे के दौरान पूछे जाने वाले प्रश्नों का सही उत्तर दें। बीमारियों को छुपायें नहीं बल्कि उनकी जानकारी स्वास्थ्य कर्मियों को दें। जिससे कि सही समय पर बीमारियों का चिन्हांकन कर उनका इलाज प्रारंभ किया जा सके।

Source : Agency