छतरपुर
छतरपुर(chhatarpur) की युवती प्रज्ञा पालीवाल (pragya paliwal)की थाईलैंड में मौत हो गयी है. वहां एक सड़क दुर्घटना (road accident)में प्रज्ञा की जान चली गयी. प्रज्ञा के बंगलुरू की एक कंपनी में काम करती थीं और ट्रेनिंग के लिए थाईलैंड गयी थीं. विदेश मंत्री डॉ जे जयशंकर ने पीड़ित परिवार की हर संभव मदद का आश्वासन दिया है.

प्रज्ञा के माता-पिता छतरपुर की सीताराम कॉलोनी में रहते हैं. वो खुद बंगलुरु में एक आईटी कंपनी में काम करती थीं. उसी कंपनी ने ट्रेनिंग के लिए प्रज्ञा को थाईलैंड भेजा था. थाईलैंड के फुकेट में कार एक्सीडेंट में प्रज्ञा की मौत हो गयी. प्रज्ञा के परिवार में किसी के पास पासपोर्ट नहीं है इसलिए वो बेटी का शव लाने थाईलैंड नहीं जा पा रहे हैं. इस बीच विदेश मंत्री डॉ एस जयशंकर ने ट्वीट किया है कि  पीड़ित परिवार की हरसंभव मदद की जाएगी.

विदेश मंत्री एस जे शंकर ने संज्ञान लेते हुए ट्वीट के माध्यम से परिवार को मदद का भरोसा दिलाया और उन्हें दिल्ली बुलाया है. वहां तुरंत पासपोर्ट तैयार कर उन्हें बैंकॉक भिजवाया जाएगा.

फुकेट में एक्सीडेंट- प्रज्ञा क्यू नेट कंपनी के लिए काम करती थीं. उसकी कॉन्फ्रेंस में शामिल होने बैंकॉक गयी थीं. फुकेट में सड़क हादसे में उनकी मौत हो गयी. छतरपुर में रह रहे प्रज्ञा के परिवार के किसी सदस्य के पास पासपोर्ट नही है. इसलिए शव लाने के लिए थाईलैंड जाने में उन्हें दिक्कत हो रही थी.

Source : Agency