जशपुरनगर
कलेक्टर निलेशकुमार महादेव क्षीरसागर ने जशपुरनगर के समीप डूमरटोली में लावानदी पर बने एनीकट में मत्स्य बीज छोड़कर जिले के नदी नालों में मत्स्य संचयन कार्यक्रम का शुभारंभ किया। मत्स्य संचयन एवं विकास कार्यक्रम का उद्देश्य जिले के नदी नालों में बने स्टॉप डेम एनीकट, डायवर्सन आदि संरचनाओं में मत्स्य की उपलब्धता सुनिश्चित कराना है ताकि नदी नालों में मत्स्याखेट करने वाले मछुवारों को जीवन यापन के लिए रोजगार मिलता रहे। जशपुर जिले के सभी नदी नालों में जहां मत्स्य पालन के लिए अनुकूल परिस्थितियां एवं संरचनाएं उपलब्ध है। वहां मत्स्य विभाग द्वारा इस कार्यक्रम के अंतर्गत मछली बीज छोड़े जाएंगे।

कलेक्टर क्षीरसागर एवं डूमरटोली के सरपंच सोहन राम भगत ने आज शाम मत्स्य विभाग के इस कार्यक्रम का विधिवत शुभारंभ डूमरटोली एनीकट के ऊपरी हिस्से में 1 लाख मत्स्य बीज छोड़कर किया। इस अवसर पर सहायक संचालक मत्स्य पालन डी.के.इजारदार, एफओ पैंकरा, मत्स्य निरीक्षक नेताम सहित ग्रामीणजन उपस्थित थे। सहायक संचालक इजारदार ने बताया कि इस योजना के तहत् विभिन्न एनीकट एवं स्टॉप डेम में आगामी एक सप्ताह के भीतर मत्स्य बीज का संचयन किया जाएगा।

Source : Agency