धनबाद
नागरिकता संशोधन बिल पर सियासी संग्राम गहराने लगा है। अब पीएम नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस और उसके सहयोगी दलों पर तीखा हमला बोला है। झारखंड की चुनावी रैली में पीएम ने दो टूक कहा कि कांग्रेस ने हमेशा ही शरणार्थियों का इस्तेमाल किया और अब वह इस विधेयक को लेकर झूठ बोलकर पूर्वोत्तर में आग लगा रही है। पीएम ने कहा कि कांग्रेस और उनके साथ भ्रम फैला रहे हैं। पूर्वोत्तर के लोगों को मैं विश्वास दिलाता हूं कि उन्हें किसी के बहकावे में आने की जरूरत नहीं है। हम उनकी संस्कृति, भाषा, मान, सम्मान को और समृद्ध करने के लिए प्रतिबद्ध हैं।

नागरिकता संशोधन बिल के बहाने पीएम मोदी ने कांग्रेस पर प्रहार करते हुए कहा, 'कांग्रेस की नीति हमेशा रही है लूटो और लटकाओ। इनके नेता हर चुनाव के पहले बयान देते रहे हैं कि वे बाहर से आने वाले शरणार्थियों को नागरिकता देंगे। पर, क्या हुआ...अब वे फिर पलट गए। आखिर शोषित लोगों को अधिकार मिलना चाहिए कि नहीं? पड़ोसी देशों में अल्पसंख्यकों के साथ अत्याचार हुआ...लाखों अल्पसंख्यक सदियों तक शोषित रहे हैं। हम मानवीय दृष्टि से उन्हें नागरिकता देना चाहते हैं तो कांग्रेस को इसमें भी विरोध करना है।'

'भ्रम फैला रही कांग्रेस'
पीएम मोदी ने कहा, 'कांग्रेस और उसके साथी पूर्वोत्तर में भी आग लगाने की कोशिश कर रहे हैं। वहां भ्रम फैलाया जा रहा है कि बांग्लादेश से बड़ी संख्या में लोग आ जाएंगे। जबकि ये कानून पहले से ही भारत आ चुके शरणार्थियों की नागरिकता के लिए है। 31 दिसंबर 2014 तक जो भारत आए उन शरणार्थियों के लिए ही ये व्यवस्था है। इतना ही नहीं पूर्वोत्तर के करीब-करीब सभी राज्य इस कानून के दायरे से बाहर हैं।'

'हम पर विश्वास कीजिए, बहकावे में न आइए'
असम के लोगों से शांति की अपील करते हुए पीएम ने कहा, 'खासकर मैं असम के मेरे भाई -बहनों को विश्वास दिलाता हूं कि कोई भी उनके अधिकारों को नहीं छीन सकता। उनकी राजनीतिक विरासत, भाषा और संस्कृति को हमेशा ही संरक्षित करने और उन्हें आगे बढ़ाने के लिए हम काम करते रहेंगे। वहां के नौजवानों के उज्ज्वल भविष्य के लिए भारत सरकार पूरी ताकत से कंधे से कंधा मिलाकर काम करेगी। मैं अपील करता हूं कि कांग्रेस और उनके साथियों के बहकावे में न आएं।'

'कांग्रेस की डिक्शनरी में जनहित नहीं'
चुनावी रैली में कांग्रेस को निशाने पर लेते हुए पीएम ने कहा, 'कांग्रेस और उसके साथियों की डिक्शनरी में कभी जनहित नहीं रहा। उन्होंने हमेशा स्वहित के लिए, परिवार हित के लिए काम किया। यही कारण है कि काले सोने पर बैठा ये धनबाद और ये पूरा इलाका संपदा से जितना समृद्ध है, उतनी ही अधिक गरीबी यहां बनी रही।'

राम मंदिर के बहाने भी कांग्रेस पर वार
राम मंदिर का मुद्दा उठाते हुए पीएम मोदी ने कहा, 'राम जन्मभूमि को लेकर जो विवाद सदियों से चल रहा था, उसे कांग्रेस ने जानबूझकर उलझाया। हमने कहा था, हमारे संकल्प पत्र में लिखा था कि राम जन्मभूमि विवाद को शांतिपूर्ण तरीके से सुलझाएंगे। हमने अपना वादा निभाया और इसको शांतिपूर्ण तरीके से सुलझाया। इसी तरह हमने तीन तलाक के खिलाफ कानून लाकर लाखों-करोड़ों मुस्लिम महिलाओं का जीवन सुरक्षित किया है।'

पीएम ने 370 का भी मुद्दा उठाया
पीएम नरेंद्र मोदी ने 370 के मुद्दे के बहाने भी अपनी सरकार की पीठ थपथपाई। उन्होंने कहा, 'बीजेपी ने आपसे ये कहा था कि देश में एक ही संविधान लागू करेंगे, जम्मू-कश्मीर में भी भारतीय कानून लागू करेंगे। आज जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 हट चुका है और भारत का संविधान पूरी तरह से वहां लागू है।'

Source : Agency