रायपुर। छत्तीसगढ़ फिल्म एंड विजुवल आर्ट सोसाइटी के तत्वावधान में 14 से 18 दिसंबर तक हबीब तनवीर नाट्य स्पर्धा का आयोजन किया जा रहा है। जनमंच सड्डू में आयोजित नाट्य स्पर्धा के तहत 14 दिसंबर  को लोकनाट्य स्पर्धा के अंतर्गत गंवई लोक नाट्य संस्था मोंहदी द्वारा शाम 5 बजे परमेश्वर बर्रा द्वारा निर्देशित नाटक अलकरहा का प्रदर्शन किया जाएगा। 15 दिसम्बर को दोपहर 2 बजे से डॉ राधाबाई शासकीय नवीन कन्या महाविधालय की छात्राओ द्वारा विष्णु प्रभाकर की रचना पर आधारित डॉ. गौरी अग्रवाल द्वारा निर्देशित नाटक सांप और सीढी नाटक का प्रदर्शन किया जाएगा।
इसी दिन दोपहर 3.30 बजे से धमतरी पीजी कॉलेज द्वारा आशीष साहू द्वारा निर्देशित नाटक अंत हाजिर हो की प्रस्तुति दी जाएगी। 15 दिसंबर शाम 5 बजे महाविद्यालयीन स्पर्धा के अंतर्गत आईआईटी भिलाई की टीम द्वारा जंग नाटक की तथा शाम 6.30 बजे से शौकिया नाट्य समूह स्पर्धा में शमिल रंग दक्ष सांस्कृतिक मंच द्वारा भटकते सिपाही का मंचन किया जाएगा। 16 दिसंबर को शास्वत उत्सर्ग यूथ थियेटर ग्रुप धमतरी द्वारा 4 बजे से तृष्णा नाटक का मंचन किया जाएगा। महाविद्यालयीन नाट्य स्पर्धा के अंतर्गत शासकीय विश्वनाथ यादव तामस्कर स्नातकोत्तर स्वशासी महाविद्यालय, दुर्ग के विद्यार्थी शाम 5.30 बजे भाविक रूपडा द्वारा निर्देशित नाटक ख्वाहिशें  की प्रस्तुति दी जाएगी। 16 दिसंबर को ही वीमेंस थिएटर क्लब ग्वालियर द्वारा शाम 7 बजे प्रेमचंद द्वारा लिखित तथा गीतांजलि द्वारा निर्देशित नाटक बड़ी जिज्जी  की प्रस्तुति की जाएगी।
17 दिसंबर को  शाम 5.30 बजे कमला देवी महाविद्यालय रायपुर के द्वारा नाट्य मंचन किया जाएगा। इसी दिन सृजन रंग यात्रा दल राजनांदगांव के द्वारा शाम 6.45  बजे भुवनेश्वर दर भुवनेश्वर जिसका निर्देशन नीरज उके ने किया है। 18 दिसम्बर को शाम 5.30 को लिटिल अफर्ड भिलाई के द्वारा इन इंस्पेक्टर काल्स जिसका निर्देशन त्रिलोक तिवारी ने किया है का प्रदर्शन होगा।

Source : Agency