सिंगापुर
यूक्रेन के विमान को मिसाइल से गिराने की गलती ईरान को खासी भारी पड़ सकती है। इस हादसे में ईरान के अलावा अन्य 5 देशों के यात्रियों की मौत हो गई थी। इन सभी 5 देशों ने गुरुवार को लंदन में मीटिंग करने का फैसला लिया है और इस दौरान ईरान के खिलाफ कानूनी कार्रवाई किए जाने पर विचार हो सकता है। यूक्रेन के विदेश मंत्री ने यह जानकारी दी है।

सिंगापुर के आधिकारिक दौरे से इतर यूक्रेन के विदेश मंत्री वाडिम प्रिस्तायको ने कहा कि इस मीटिंग में ईरान से हर्जाने की मांग पर फैसला लिया जाएगा। बता दें कि बीते बुधवार को ईरान की राजधानी तेहरान के बाहरी इलाके में एक मिसाइल हमले में प्लेन क्रैशन हो गया था। विमान में सवार सभी 176 लोगों की मौत हो गई थी। शुरुआती रिपोर्ट्स में विमान में खामी की बात सामने आई थी, लेकिन बाद में ईरान ने स्वीकार किया कि उसकी मिसाइल से ही विमान गिरा था।

प्रिस्तायको ने कहा कि ईरान की ओर से यह कहना मूर्खतापूर्ण है कि कि यूक्रेन इंटरनैशनल एयरलाइंस का विमान उसके मिलिट्री बेस के पास गुजर रहा था। उन्होंने कहा कि ईरान ने यूक्रेन को विमान का ब्लैक बॉक्स सौंपने पर सहमति जताई है। किसी भी विमान हादसे की जांच के लिए ब्लैक बॉक्स को महत्वपूर्ण माना जाता है।

प्रिस्तायको ने कहा कि विमान हादसे में जिन देशों के लोगों की मौत हुई है, उन सभी ने एक समूह तैयार किया है। 16 जनवरी को ग्रुप की लंदन में मीटिंग है और इस घटना को लेकर कानूनी कार्रवाई को लेकर फैसला लिया जा सकता है।

Source : Agency