अशोकनगर
कांग्रेस के पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं राष्ट्रीय महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया एक दिन के दौरे पर अशोकनगर पहुंचे, इस दौरान उन्होंने जनसंपर्क कार्यक्रम किया। यहां मीडिया से मुखातिब होते हुए सिंधिया ने सरकार के खिलाफ सड़क पर उतरने के बयान पर अपना रुख स्पष्ट किया।  सिंधिया ने कहा कि सरकार ने आश्वासन दिया था अब इन बातों पर अमल होना चाहिए और अगर अमल नहीं होता तो सड़क पर उतरेंगे। साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि वह 20 साल से राजनीति कर रहा है और ऐसा कभी नहीं हुआ कि उन्होंने कोई वादा किया हो और उसे निभाया ना हो। इस तरह कल सड़क पर सरकार के खिलाफ उतरने के बयान पर सिंधिया बिना लाग लपेट के स्थिर बने रहे।

शुक्रवार को अशोकनगर में हुये ऐतिहासिक स्वागत के बीच लोकसभा चुनाव में हार की टीस भी सिंधिया के बयानों में खुलकर सामने आई। मंच से बोलते हुए सिंधिया ने कहा कि जनता ही भगवान होती है ,वह आम आदमी को नेता बना देती है और नेता को जनता बना देती है।  सिंधिया ने यह भी कहा कि हम कुछ अतिआत्मविश्वास में रहे इस कारण यह परिणाम हुआ। हालांकि सिंधिया यह कहना भी नहीं भूले कि भले ही अब संसद में नहीं है मगर इस क्षेत्र से उनका लगाव बना हुआ है और वे हमेशा यहां के लोगों की सेवा करते थे और आगे भी करते रहेंगे।

Source : Agency