हापुड़
चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय कैंपस मेरठ से एमबीए कर रही छात्रा का अपहरण कर गैंगरेप का सनसनीखेज मामला सामने आया है। यूनिवर्सिटी से हापुड़ अपने गांव लौटते वक्त बस खराब होने पर लिफ्ट देने के बहाने कुछ युवकों ने छात्रा को अगवा कर लिया। स्याना क्षेत्र के एक गांव में ले जाकर गैंगरेप किया। विरोध करने पर उसके चेहरे पर रॉड से वार किए। आरोपी उसे बेहोशी की हालत में छोड़कर फरार हो गए। पुलिस ने छात्रा को मेरठ मेडिकल अस्पताल में भर्ती कराया है। पुलिस ने चार के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है।

छात्रा हापुड़ जिले में गढ़मुक्तेश्वर क्षेत्र की रहने वाली है। 13 फरवरी की दोपहर छात्रा यूनिवर्सिटी से पढ़ाई कर बस से घर लौट रही थी। परिजनों से आखिरी बार हुई बातचीत में उसने कहा कि वह गढ़ रोड पर गांव मऊखास के पास पहुंच गई है। देर शाम तक जब छात्रा घर नहीं पहुंची तो परिजनों ने उसकी खोजबीन शुरू की। पुलिस ने उसका मोबाइल नंबर सर्विलांस पर लगाया। आखिरी लोकेशन बुलंदशहर जनपद में स्याना कोतवाली क्षेत्र के चांदपुर पूठी गांव की आई। शुक्रवार सुबह पुलिस लोकेशन पर पहुंची। यहां एक घर से छात्रा बदहवास हालत में बरामद हो गई। उसे मेरठ मेडिकल अस्पताल में भर्ती कराया गया।

छात्रा के अनुसार, रास्ते में बस खराब हो गई थी। इस दौरान एक कार आकर रुकी। कार सवारों को वह जानती थी, इसलिए लिफ्ट लेकर बैठ गई। कार सवार युवक उसे अगवा कर चांदपुर पूठी में ले आए। यहां चार युवकों ने उसके साथ रेप किया। पुलिस ने इस मामले में प्रियांश निवासी चांदपुर पूठी, आकाश, सुमित व सोनी के खिलाफ गंभीर धाराओं में केस दर्ज कर लिया है। पीड़ित छात्रा मेरठ मेडिकल अस्पताल में बेहोशी की हालत में है। उसके चेहरे पर गंभीर वार किए गए हैं।

इस मामले पर गढ़मुक्तेश्वर कोतवाली के इंस्पेक्टर राजपाल तोमर ने कहा कि मोबाइल लोकेशन के जरिये छात्रा को एक गांव से बरामद किया गया है। होश में आने पर उसके बयान दर्ज किए जाएंगे। मुकदमा दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है।

 

Source : Agency