नई दिल्ली

राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में अब भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की सरकार नही है, ऐसे में राज्यसभा में भी बीजेपी की ताकत घटने के आसार हैं। इन तीनों राज्यों में विद्यायकों के अंकगणित के हिसाब से आगे आने वाले समय में बीजेपी को काफी नुकसान होने वाला है। फिलहाल तीनों राज्यों की 26 सीटों में से भाजपा के पास अभी 21 सीटें हैं। लेकिन 2022 के राज्यसभा चुनाव में बीजेपी इन तीनों राज्य में 12 या 13 सीटों पर सिमट सकती है।राज्यसभा के लिए 26 मार्च को हो रहे चुनाव में मध्य प्रदेश की तीन सीटों के लिए चुनाव होगा। अभी इसमें बीजेपी के पास दो और कांग्रेस के पास एक सीट है। इसमें कांग्रेस को दो सीटें आसानी से मिल जाएंगी, जबकि बीजेपी के खाते में एक सीट जाएगी। इसी तरह वर्ष 2022 में तीन सीटों के लिए चुनाव होगा। उस चुनाव में कांग्रेस के खाते में दो और बीजेपी के खाते में एक सीट जाएगी। इस तरह 2022 तक मध्यप्रदेश में भाजपा के पास 11 में से छह सीटें होंगी ।

 

राज्यसभा में इस समय कांग्रेस की सदस्य संख्या जीरो है, लेकिन नई विधानसभा में विधायकों की संख्या के हिसाब से इस साल 26 मार्च को हो रहे चुनाव में इसके दो सदस्य राज्यसभा में होंगे। बीजेपी को राजस्थान से 2020 में केवल एक सीट मिलेगी। राजस्थान में 2020 में तीन सीटें खाली हो रही हैं। इनमें विधायकों की संख्या बल के हिसाब से कांग्रेस को दो और बीजेपी को एक सीट मिल सकती है। हालांकि कांग्रेस को दूसरी सीट के लिए निर्दलीय और सहयोगी दलों का सहारा लेना होगा।

 

इसी तरह से 2022 में राज्य में चार सीटें खाली हो रही हैं। इसमें कांग्रेस को दो सीटें आसानी से मिल जाएंगी, जबकि तीसरी सीट के लिए मुकाबला होगा। वहीं, भाजपा को एक सीट मिलेगी और दूसरी सीट के लिए उसे सात और विधायकों की जरूरत पड़ेगी। ऐसी स्थिति में राज्य में चौथी सीट के लिए मुकाबला दिलचस्प हो सकता है। इस तरह राजस्थान में 2022 तक कांग्रेस शून्य से बढ़कर चार से पांच राज्यसभा सांसद वाली पार्टी हो जाएगी।

 

भाजपा को छत्तीसगढ़ में सीधे तौर पर भारी नुकसान हो रहा है। मार्च में राज्य में दो सीटों के लिए चुनाव हो रहा है। कांग्रेस और बीजेपी के पास वर्तमान में एक-एक सीट है। लेकिन ये दोनों सीटें कांग्रेस के खाते में चली जाएंगी। इसी तरह 2022 में होने वाले चुनाव में दो सीटें कांग्रेस के खाते में चली जाएंगी।गौरतलब है की मध्यप्रदेश में 11, राजस्थान में 10 और छत्तीसगढ़ में पांच राज्यसभा सदस्य हैं। वर्तमान राज्यसभा में राजस्थान की दसों सीट पर भाजपा का कब्जा है। मध्यप्रदेश में बीजेपी के पास आठ और कांग्रेस के पास तीन हैं। वहीं, छत्तीसगढ़ में बीजेपी के तीन और कांग्रेस के दो राज्यसभा सांसद हैं इन तीन राज्यों की 26 सीटों में से 21 सीटें बीजेपी के पास हैं और सिर्फ पांच सीटों पर कांग्रेस है। लेकिन 2022 तक बीजेपी 12 या 13 सीटों पर सिमट जाएगी।

Source : Agency