लखनऊ 

कोरोना वायरस का संक्रमण रोकने के लिए उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने पूरे राज्य में पान मसाला पर प्रतिबंध लगा दिया है. राज्य सरकार ने यूपी में पान मसाला के उत्पादन, वितरण और बिक्री पर अगले आदेश तक रोक लगा दी है. उत्तर प्रदेश के कई शहरों में पान मसाला का बड़े पैमाने पर उत्पादन होता है. इनमें कानपुर और नोएडा प्रमुख हैं.

कोरोना वायरस के संक्रमण का खतरा

मंगलवार को उत्तर प्रदेश सरकार के एडिशनल चीफ सेक्रेटरी अवनीश अवस्थी ने कहा था कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आदेश दिया है कि गुटखा, पान मसाला और पान पर प्रतिबंध लगाया जाए.

उन्होंने कहा कि लोग गुटखा और पान मसाला खाकर सरकारी दफ्तरों, बाजारों और सार्वजनिक स्थानों में थूकते हैं. इससे गंदगी तो फैलती ही है, इस वक्त कोरोना वायरस के संक्रमण का भी खतरा बढ़ गया है.

2017 में भी लगाया था बैन

बता दें कि जब योगी आदित्यनाथ 2017 में उत्तर प्रदेश के सीएम बने थे उस वक्त भी उन्होंने राज्य में पान-गुटखा पर बैन लगा दिया था. लेकिन शुरूआती सख्ती के बाद राज्य में एक बार फिर से पान-गुटखे की बिक्री शुरू हो गई थी. अब कोरोना वायरस का संक्रमण रोकने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार ने ये फैसला लिया है. इधर केंद्र सरकार ने यूपी समेत पूरे देश में लॉक डाउन घोषित कर दिया गया है.

 सीएम योगी आदित्यनाथ के आदेश के बाद बुधवार को राज्य सरकार ने पान मसाला के उत्पादन, वितरण और बिक्री पर पूरी तरह से रोक लगा दी है. ये रोक अगले आदेश तक जारी रहेगी. बता दें कि कोरोना वायरस की वजह से यूपी सरकार ने लोगों से अपील की है कि वे घरों से एकदम बाहर न निकलें. योगी सरकार ने कहा है कि यूपी प्रशासन लोगों के घरों तक सामान पहुंचाएगा.

Source : Agency