काठमांडू            
मुंबई धमाके का आरोपी खुर्शीद आलम की नेपाल में गुरुवार रात गोली मारकर हत्या कर दी गई. सुनसारी जिले के हरिनगर इलाके में भुतहा बाजार में खर्शीद को गोली मारी गई. दो मोटरसाइकिल पर आए चार अपराधियों ने आलम पर गोलियों की बौछार कर दी. मोटरसाइकिल की नंबर प्लेट भारतीय बताई जा रही है. अपराधी गोली मारकर भारत भाग गए. इस घटना में एक नेपाली पुलिस कांस्टेबल भी जख्मी है. कांस्टेबल ने भारत-नेपाल बॉर्डर पर मोटरसाइकिल सवार अपराधियों को रोकने की कोशिश की, तो उसपर गोलियां चलाई गईं.

खुर्शीद आलम नेपाल में स्कूल प्रिंसिपल था. आलम का नाम साल 2008 में बाटला एनकाउंटर के फारर आतंकियों में से एक शहजाद पप्पू की गिरफ्तारी के बाद जांच एजेंसियों के सामने आया था. शहजाद पप्पू स्पेशल इंस्पेक्टर मोहन चंद शर्मा पर गोली चलाने में दोषी करार दिया जा चुका है. खुर्शीद आलम आईएसआई के लिए काम करता था. इंडियन मुजाहिदीन के आतंकी जब बाटला एनकाउंटर के बाद फरार हुए तो नेपाल में खुर्शीद ने सभी का पासपोर्ट बनवाया. साथ ही रहने की व्यवस्था की और इंडियन मुजाहिदीन के आतंकियों को लोजस्टिक सपोर्ट भी देता था. नेपाल में खुर्शीद आईएसआई का का अहम मोहरा था.

Source : Agency