नई दिल्ली 
राजस्थान की राजधानी जयपुर में 22 लोगों के जीका वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि के बाद प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) ने इस विषाणु के प्रसार पर स्वास्थ्य मंत्रालय से व्यापक रिपोर्ट मांगी है। जयपुर में इस वायरस से संक्रमित हुए लोगों में एक व्यक्ति बिहार का निवासी है और वह हाल ही में सीवान जिले स्थित अपने घर गया था। उधर, इस मामले के सामने आने के बाद बिहार सरकार ने अपने सभी 38 जिलों को परामर्श जारी कर ऐसे लोगों पर करीबी नजर रखने का निर्देश दिया है। उधर, राजस्थान में कांग्रेस ने सूबे की बीजेपी सरकार पर हमला बोला है। 
 
स्वास्थ्य मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि पीएमओ ने जयपुर में जीका वायरस के प्रसार पर व्यापक रिपोर्ट मांगी है। नियंत्रण उपायों में राजस्थान सरकार की मदद के लिए सात सदस्यीय उच्चस्तरीय टीम जयपुर में है। अधिकारी के मुताबिक राष्ट्रीय रोग नियंत्रण केंद्र (एनसीडीसी) में एक नियंत्रण कक्ष तैयार किया गया है ताकि हालात की नियमित निगरानी की जा सके। 
 
उधर, स्वास्थ्य मंत्रालय के स्तर पर हालात की समीक्षा की जा रही है। मंत्रालय ने एक बयान में सोमवार को कहा कि आज की तारीख तक कुल 22 मामलों की पुष्टि हुई है। जयपुर के निर्धारित इलाके में सभी संदिग्ध मामलों को और इस इलाके के मच्छरों के नमूनों की जांच की जा रही है। विषाणु शोध एवं रोग पहचान प्रयोगशालाओं को अतिरिक्त जांच किट मुहैया की गई हैं। 

राज्य सरकार को जीका विषाणु और इसकी निवारण रणनीतियों के बारे में जागरूकता पैदा करने के लिए सूचना और जानकारी मुहैया की गई है। अधिकारी ने बताया कि इलाके में सभी गर्भवती महिलाओं की निगरानी की जा रही है। आपको बता दें कि जीका विषाणु जनित रोग दुनिया भर के 86 देशों में दर्ज किया गया है। भारत में जनवरी और फरवरी 2017 में पहली बार इसके प्रसार की पुष्टि अहमदाबाद में हुई थी। इसके बाद तमिलनाडु में भी इसकी पुष्टि हुई थी। 

कांग्रेस ने राजे सरकार पर बोला हमला 
उधर, राजस्थान की वसुंधरा सरकार पर हमला बोलते हुए कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व सीएम अशोक गहलोत ने कहा, 'स्वाइन फ्लू के मरीजों की संख्या वर्ष दर वर्ष बढ़ रही है और अब जीका वायरस भी राजस्थान में प्रवेश कर गया है। ये सभी स्थितियां राज्य को जकड़ रहे संवेदनशील मुद्दों के प्रति सरकार की बेरुखी को जाहिर करती हैं। अब मुख्यमंत्री की गौरव यात्रा खत्म हो गई है इसलिए आप इस राज्य के प्रति अपने कर्तव्यों का निर्वहन करें।' 
 

Source : Agency