नई दिल्ली 

एक कहावत है- 'इट्स ऑल अबाउट हंटिंग इन पेयर्स।' दूसरे शब्दों में कहें तो जोड़ी में किसी चीज को करने का अपना मजा होता है। क्रिकेट की दुनिया ऐसे उदाहरणों से भरी पड़ी है। ग्रीनिच-हेंस, सचिन-सौरभ, गिलक्रिस्ट-हेडन इस कड़ी का हिस्सा हैं। विराट कोहली और रोहित शर्मा के बीच कई रेकॉर्ड हैं। लेकिन एक बात जो अकसर नजरअंदाज कर दी जाती है वह यह कि वह मौजूदा दौर के वनडे क्रिकेट की सबसे खतरनाक जोड़ियों में शुमार हैं।  
 
5 बार वनडे क्रिकेट में डबल सेंचुरी पार्टनरशिप हुई हैं रोहित और विराट के बीच। इसके अलावा कोहली-गौतम गंभीर, सचिन तेंडुलकर-सौरभ गांगुली व महेला जयवर्धने-कुमार संगकारा के बीच 3-3 बार ऐसा हुआ है।

246 रनों की साझेदारी की रोहित-विराट ने रविवार 21 अक्टूबर को वेस्ट इंडीज के खिलाफ खेले गए वनडे मैच में। यह रनों का पीछा करते हुए भारत की ओर से सबसे बड़ी साझेदारी थी।


15 बार शतकीय साझेदारी की हैं रोहित और विराट ने। क्रिकेट में अभी तक सिर्फ छह जोड़ियां ही यह मुकाम हासिल कर चुकी हैं। रोहित-विराट इकलौती जोड़ी है जो अभी खेल रही है। इनके अलावा सचिन-सौरभ (26), तिलकरत्ने दिलशन-कुमार संगकारा (20), गिलक्रिस्ट-हेडन (16), गोर्डन ग्रीनिच-डेसमंड हेंस और महेला जयवर्धने-कुमार संगकारा (दोनों 15) ने यह मुकाम हासिल किया।

65.5 है विराट और रोहित के बीच साझेदारी का औसत। 15 या उससे ज्यादा सेंचुरी साझेदारी करने वाली जोड़ियों में यह सबसे ज्यादा है। अगला नंबर तिलकरतने दिलशन- कुमार संगाकारा का नंबर आता है जिनका औसत 53.7 है।


3931, रन बनाए हैं विराट कोहली और रोहित शर्मा की जोड़ी ने। वनडे क्रिकेट में भारत की सबसे कामयाब जोड़ियों में वह सातवें पायदान पर हैं। मौजूदा जोड़ियों की बात करें तो सिर्फ शिखर धवन- रोहित शर्मा (3936) ही इनसे आगे हैं। लेकिन यहां यह बात भी ध्यान देने वाली है कि रोहित-धवन के नाम ये रन 86 पारियों में हैं जबकि रोहित-विराट ने 64 पारियों में ही इतने रन बना दिए हैं। वनडे में अगर किसी जोड़ी के नाम सबसे ज्यादा रन हैं तो वह है सचिन-सौरभ की जोड़ी। भारत की इस पूर्व सलामी जोड़ी के नाम 176 पारियों में 8277 रन हैं।
भारत    विदेश
पारी    21    43
रन    1771    2160
सर्वोच्च साझेदारी    246    219
औसत    88.6    54
100    6    9
जिन 37 मैचों में भारत ने जीत हासिल की है उनमें विराट-रोहित की जोड़ी का बल्लेबाजी औसत 84.1 है। वहीं जिन 25 मैचों में भारत हारा है वहां उनका औसत गिरकर 46.1 आ जाता है। इससे साबित होता है कि जब भी यह जोड़ी अच्छा खेलती है, आमतौर पर टीम को जीत मिलती है।

Source : Agency