देवास
मध्य प्रदेश में भाजपा ने विधानसभा चुनाव के लिए अपने प्रत्याशियों की पहली सूची जारी कर दिया है. जिन विधायकों का टिकट काटा गया है वे लगातार बगावती तेवर दिखा रहे हैं. प्रदेश में देवास जिले के बागली विधानसभा से दो बार के भाजपा विधायक चम्पालाल देवड़ा ने टिकट नहीं मिलने पर निर्दलीय चुनाव लड़ने का ऐलान कर दिया है.

नाराज देवड़ा ने कहा कि बागली विधानसभा 'कोरकू' बाहुल्य सीट है. ऐसे में यहां से पहाड़ सिंह कन्नौजे  को टिकट दिए जाने के बाद कार्यकर्ताओं में रोष है. 'कोरकू' समाज और कार्यकर्ताओं के भावनाओं का सम्मान  रखने के लिए चुनावी मैदान में उतरेने का फैसला किया है. विधायक चम्पालाल देवड़ा के इस ऐलान से वागली के राजनीतिक गलियारों में हलचल का माहौल है.

बता दें कि भाजपा ने इस बार वर्तमान विधायक का टिकट काटते हुए प्रशासनिक अनुभव रखने वाले पहाड़ सिंह कन्नौजे को बागली से टिकट दिया है.

चम्पालाल देवड़ा ने ये भी दावा किया कि पार्टी के प्रति वह आज भी समर्पित हैं, लेकिन कार्यकर्ताओं की भावनाओं का ख्याल रखते हुए निर्दलीय चुनाव लड़ने का फैसला किया है.

Source : Agency