भोपाल
अशोका गार्डन में रहने वाले मीडियाकर्मी रमेश शाक्या का बेटे का सुराग दो दिन बाद भी नहीं लग सका है। पुलिस कंट्रोल में सीसीटीवी कैमरों के फुटेज भी खंगाल लिए, लेकिन पता नहीं चल सका। रेलवे स्टेशन पर भी कैमरों में वह दिखाई नहीं दे रहा है।

ऐसे परिजनों को संदेह है कि उसे किसी ने बहला-फुसलाकर अपने घर में बंधक बनाए रखा है। पुलिस के मुताबिक रमेश शाक्या दैनिक समाचार पत्र में पदस्थ हैं। रविवार शाम करीब पांच बजे उनका बेटा आर्यन शाक्य कोचिंग का जाने का कहकर निकला था। उसके बाद से आर्यन को कुछ पता नहीं है। कल परिजनों ने पुलिस कंट्रोल रूम और रेलवे स्टेशन में लगे सीसीटीवी कैमरों के फुटेज देखे। 

फुटेज भी वह दिखाई नहीं दे रहा है, इसलिए परिजनों को शक है कि उसे अशोका गार्डन इलाके के किसी घर में रखा गया है। साथ ही रमेश शाक्या ने अपील की है कि अगर किसी भी व्यक्ति को सूचना मिलती है, तो वह इस नंबर 9977161983 पर संपर्क कर सकते हैं। सूचना देने वाले को उचित इनाम भी दिया जाएगा।

Source : Agency