बेंगलुरु 
2019 के आम चुनावों के लिए मोदी सरकार के सामने विपक्ष को एकजुट करने के मिशन में जुटे आंध्र प्रदेश के सीएम चंद्रबाबू नायडू ने पूर्व पीएम एचडी देवगौड़ा से मुलाकात की। इस मुलाकात में कर्नाटक सीएम कुमारस्वामी भी मौजूद रहे। मुलाकात के बाद देवगौड़ा ने कहा कि एनडीए सरकार में वैधानिक संस्थाएं खतरे में आ गई हैं और इसके खिलाफ सारे सेक्युलर लीडर्स को एकजुट होने की जरूरत है। पूर्व पीएम ने कहा कि कांग्रेस भले ही 17 प्रदेशों में बीजेपी से हार चुकी है लेकिन आने वाले विधानसभा चुनावों में अच्छा करेगी। उन्होंने कांग्रेस से कहा कि वह नायडू की इस मुहिम में मदद करे। उधर, नायडू ने राफेल में कथित घोटाले और नोटबंदी को लेकर सरकार पर हमला बोला। 

कर्नाटक उपचुनाव में जेडी(एस) और कांग्रेस की बीजेपी पर जीत के बाद गुरुवार को आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री और तेलुगु देशम पार्टी (टीडीपी) प्रमुख एन चंद्रबाबू नायडू ने पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवगौड़ा से मुलाकात की। बता दें कि विपक्षी दलों को एकजुट करने की कोशिश में बीते दिनों वह कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से भी मिल चुके हैं। इस मुलाकात के बाद देवगौड़ा ने एनडीए सरकार में अविश्वास जताते हुए विपक्ष से एकसाथ आने की अपील की। 

चंद्रबाबू नायडू के साथ मुलाकात के बाद देवगौड़ा ने एनडीए सरकार की नीतियों को गलत बताते हुए कहा, 'नायडू सेक्युलर पार्टी को एकजुट करने और एनडीए सरकार को हटाने के लिए सबसे मिले। वह मुझसे और कुमारस्वामी से मिले, ताकि एनडीए के खिलाफ सेक्युलर ताकतों को मजबूत कर सकें।' उन्होंने कहा, 'हम सेक्युलर लीड को एकुजट करेंगे और कांग्रेस को भी इसमें सहयोग करना चाहिए। यह कांग्रेस की जिम्मेदारी है।' 

देवगौड़ा ने एनडीए सरकार को खतरा बताते हुए कहा कि संवैधानिक संस्थाएं खतरे में हैं। वहीं चंद्रबाबू ने मीडिया से बात करते हुए कहा, 'मैं इस महान काम के लिए समर्थन मांगने आया था और शुरू से ही हमारे रिश्ते अच्छे हैं। हमें इस देश को बचाने के लिए, लोकतंत्र को बचाने के लिए साथ आना होगा।' नायडू ने कहा, 'सीबीआई मुश्किल में है। कौन जवाबदेह है ? आरबीआई पर भी हमला हो रहा है, रेग्युलेटरी बॉडी पर भी खतरा है। ईडी, इनकम टैक्स का इस्तेमाल विपक्षियों पर हमला करने के लिए किया जा रहा है।' 

उन्होंने कहा कि तेलंगाना, यूपी, बिहार, गुजरात हर जगह इन संस्थाओं का इस्तेमाल विपक्षी नेताओं को परेशान करने के लिए किया जा रहा है। नायडू ने बीजेपी को घेरते हुए कहा, 'राफेल पर पीएम जवाब नहीं दे रहे हैं। दो साल हो गए नोटबंदी के और कोई परिणाम नहीं आया है, पेट्रोल के दाम बढ़ रहे हैं। नोटबंदी के कारण अर्थव्यवस्था खराब हुई, कीमतें भी बढ़ रही हैं।' 

आंध्र सीएम ने कहा, 'अल्पसंख्यकों पर भी दबाव है। सभी संस्थाओं पर खतरा है। जरूरी है कि संविधान को बचाया जाए।' समर्थन पर उन्होंने कहा, 'देवगौड़ा ने समर्थन देने की बात कही है। जो भी आप सोच रहे हैं हमने डिस्कस किया है।' बता दें, चंद्रबाबू इससे पहले राहुल गांधी के अलावा शरद पवार, फारूक अब्दुल्ला, मायावती और ममता से मिल चुके हैं। वह जल्द ही स्टालिन से भी मिल सकते हैं। 

Source : Agency