नई दिल्ली
भारतीय कप्तान विराट कोहली विश्व कप से पहले अगले साल होने वाले आईपीएल में तेज गेंदबाजों को विश्राम देना चाहते हैं, लेकिन हाल में प्रशासकों की समिति (सीओए) में रखे गए इस प्रस्ताव को फैंचाइजी टीमों का समर्थन मिलने की उम्मीद नहीं है। हैदराबाद में हाल में सीओए के साथ बैठक के दौरान कोहली ने तेज गेंदबाजों विशेषकर जसप्रीत बुमराह और भुवनेश्वर कुमार को पूरे आईपीएल से विश्राम देने का सुझाव दिया, ताकि वे विश्व कप के लिए तरोताजा रहें। 

भारतीय कप्तान के इस प्रस्ताव का हालांकि किसी ने खास समर्थन नहीं किया और बोर्ड के अधिकारियों ने कहा कि फैंचाइजी संभवत: इस पर सहमत नहीं होंगी। बैठक में मौजूद बोर्ड के एक शीर्ष अधिकारी ने गुरुवार को कहा, ‘आईपीएल 29 मार्च से शुरू होकर 19 मई को समाप्त होगा। भारत को विश्व कप में अपना पहला मैच पांच जून को दक्षिण अफ्रीका से खेलना है और इसमें 15 दिन का अंतर होगा। इसलिए तेज गेंदबाजों को पूरे आईपीएल से विश्राम दिए जाने की संभावना बहुत कम है।’ 

यहां तक बैठक में मौजूद सीमित ओवरों के उपकप्तान रोहित शर्मा भी कोहली से सहमत नहीं थे। अधिकारी ने कहा, ‘जब कोहली ने अपना विचार रखा तो सीओए प्रमुख विनोद रॉय ने रोहित से उनकी राय पूछी। रोहित ने साफ किया कि अगर मुंबई इंडियंस की टीम प्लेऑफ में पहुंचती है और बुमराह फिट रहते हैं तो वह उन्हें विश्राम नहीं दे सकते हैं।’ 

बैठक में उपिस्थत एक अन्य अधिकारी ने कहा कि यह ‘अजीब’ है कि भारतीय कप्तान ने तेज गेंदबाजों को पूरे आईपीएल से विश्राम देने की बात कही। उन्होंने कहा, ‘पिछले कुछ वर्षों से आईपीएल ट्रेनर और फिजियो खिलाड़ियों की व्यस्तता को लेकर भारतीय टीम के सहयोगी स्टाफ के साथ मिलकर काम करते हैं। अगले साल भी ऐसा होगा और तेज गेंदबाज सभी मैचों में नहीं खेलेंगे।’ 

अधिकारी ने कहा, ‘मुख्य मसला भुवी और बुमराह से जुड़ा है, क्योंकि शमी, उमेश और खलील अपनी फैंचाइजी टीमों की स्वाभाविक पसंद नहीं हैं और हो सकता है कि वे सभी आईपीएल मैचों में नहीं खेलें।’ उन्होंने कहा, ‘विराट चाहते हैं कि उनके दो प्रमुख तेज गेंदबाजों को आईपीएल से विश्राम दिया जाए, लेकिन इसका विपरीत असर भी पड़ सकता है, क्योंकि वे विश्व कप से दो महीने पहले से मैच अभ्यास से दूर रहेंगे।’

Source : Agency