कोलकाता
पांच बार के विश्व चैम्पियन विश्वनाथन आनंद शुक्रवार को यहां सितारों से सजे टाटा स्टील शतरंज भारत 2018 में अपने अभियान की शुरुआत वेस्लो सो के खिलाफकरेंगे। 48 वर्षीय भारतीय स्टार ने अंतिम बार देश में अपने गृहनगर में 2013 में खेला था, जिसमें उन्हें विश्व चैम्पियनशिप खिताब नार्वे के मैग्नस कार्लसन को गंवाना पड़ा था। आंनद ने बताया कि जहां वह 1986 में अंतिम जीएम नार्म करीब से हार गये थे। आनंद यहां 1992 में तीसरे गुडरिके आपन में खेले थे, उन्होंने कहा कि कोलकाता में आना शानदार अहसास है, मेरी यहां बहुत सी यादें जुड़ी हैं। मैं काफी उत्साहित हूं। शीर्ष बोर्ड में भारत के दूसरे नंबर के खिलाड़ी और पूर्व विश्व जूनियर चैम्पियन पी हरिकृष्णा का सामना स्थानीय चैलेंजर सूर्य शेखर गांगुली से होगा। 

आनंद ने 2018 की शुरुआत शानदार तरीके से की है। उन्होंने मास्को में ताल मेमोरियल रैपिड खिताब जीता था। पहले तीन दिन रैपिड शतरंज का राउंड रोबिन प्रारूप खेला जायेगा, जिसके बाद सोमवार को आराम का दिन होगा। अंतिम चरण डबल राउंड रोबिन ब्लिट्ज का होगा जो 14 नवंबर को समाप्त होगा। विदित गुजराती की भिड़ंत अजरबेजान के शखरियार मामेदयारोव से जबकि अमेरिका के हिकारू नाकामूरा का सामना लेवोन अरोनियन से होगा। 

Source : Agency