प्रोविडेंस
भारतीय महिला क्रिकेट टीम न्यूजीलैंड के खिलाफ शुक्रवार को होने वाले महिला विश्वकप ट््वंटी 20 टूर्नामेंट के ग्रुप बी मुकाबले में विजयी शुरुआत करने के इरादे से उतरेगी। भारतीय टीम का हाल का प्रदर्शन अच्छा रहा है और उसने वनडे तथा ट््वंटी 20 दोनों में ही बेहतर खेल दिखाया है। भारत और न्यूजीलैंड के बीच यदि पिछले पांच ट््वंटी 20 मुकाबलों की बात की जाए तो भारत का न्यूजीलैंड के खिलाफ पिछले सात वर्षाें में 2-3 का रिकार्ड है। भारत ने न्यूजीलैंड को अपने आखिरी मुकाबले में जुलाई 2015 को पराजित किया था।  भारत की कप्तानी विस्फोटक बल्लेबाज़ हरमनप्रीत कौर के हाथों में है जबकि अनुभवी स्मृति मंधाना को उपकप्तानी सौंपी गयी है। टीम में भारत के सबसे अनुभवी बल्लेबाज़ मिताली राज शामिल हैं जिनसे भारत को सबसे अधिक उम्मीद रहेगी। 

महिला टीम इंडिया ने 2009 और 2010 के पहले दो संस्करणों के सेमीफाइनल में जगह बनाई थी लेकिन उसके बाद भारतीय टीम का प्रदर्शन उतना शानदार नहीं रहा। भारतीय टीम 2012 में ग्रुप चरण में कोई मैच नहीं जीत पायी थी जबकि उसने 2014 में चार मैचों में दो जीत हासिल की लेकिन नेट रन रेट में पिछड़ने के कारण वे अगले दौर में क्वालीफाई नहीं कर सकीं। भारत को 2016 में अपने घर में बंगलादेश के खिलाफ मात्र एक जीत मिली थी। हाल की सीरीज़ को देखा जाए तो भारत ने श्रीलंका को बाहरी सीरीज़ में 4-0 से हराया था जबकि कुआलालम्पुर में हुये एशिया कप में भारत को बंगलादेश से फाइनल सहित दो बार हार का सामना करना पड़ा था। महिला टीम के कोच की जिम्मेदारी पूर्व भारतीय आॅफ स्पिनर रमेश पोवार को सौंपी गयी है जो अपने विशाल अनुभव से टीम में एक नया जोश ला रहे हैं। भारत को गत चैंपियन वेस्टइंडीज़ से तीन मैचों की सीरीज़ खेलनी थी लेकिन किन्हीं कारणों से यह सीरीज़ संभव नहीं हो पायी। उसके बदले भारत ने आस्ट्रेलिया ए से मुंबई में तीन मैचों की सीरीज़ 3-0 से जीती और ऊंचे मनोबल के साथ वेस्टइंडीज़ प्रस्थान किया जहां भारतीय टीम ने विंडीज़ को एक अभ्यास मैच में हराया।

भारत के ग्रुप बी की अन्य टीमें आस्ट्रेलिया, पाकिस्तान, आयरलैंड और न्यूजीलैंड हैं। भारत यदि न्यूजीलैंड को हरा देता है तो उसे फिर शेष तीन मैचों में से दो मैच जीतने होंगे। भारत का 11 नवंबर को पाकिस्तान से, 15 नवंबर को आयरलैंड से और 17 नवंबर को आस्ट्रेलिया से मैच है। टूर्नामेंट के सेमीफाइनल 22 नवंबर को खेले जाएंगे। कागज़ पर भारतीय टीम पाकिस्तान और आयरलैंड से काफी मजबूत है और यदि वह इन दोनों को हरा देती है तथा आस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड में से एक मुकाबला जीतने पर उसके लिये सेमीफाइनल का रास्ता साफ हो सकता है। लेकिन इसके लिये भारत को विजयी शुरूआत करनी होगी।

Source : Agency