गाले
इंग्लैंड के तेज़ गेंदबाज़ जेम्स एंडरसन को श्रीलंका के खिलाफ पहले गाले टेस्ट में अंपायर के फैसले का विरोध जताने के आरोप में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद(आईसीसी) की तरफ से आधिकारिक फटकार लगायी गयी है तथा एक डीमेरिट अंक दिया गया है। गाले में बुधवार को पहले टेस्ट के दूसरे दिन एंडरसन ने अंपायर के फैसले का विरोध जताया था जिसके बाद उन्हें आईसीसी के आचार संहिता नियमों के उल्लंघन का दोषी पाया गया था। एंडरसन को नियम 2.8 के तहत दोषी ठहराया गया है। एंडरसन को इसके लिये एक डीमेरिट अंक दिया गया है जिससे उनके खाते में कुल दो डीमेरिट अंक हो गये हैं। इससे पहले सितंबर में भारत के खिलाफ ओवल टेस्ट में उन्हें पांचवें टेस्ट में अंपायर के फैसले का विरोध करने के आरोप में एक अंक दिया गया था। 

श्रीलंका के खिलाफ मैच में श्रीलंकाई टीम की पारी के 39वें ओवर में एंडरसन ने पिच पर भागने के लिसे दी गयी चेतावनी पर पहले अंपायर क्रिस गैफेनी के निर्णय का विरोध किया और फिर गुस्से में गेंद को पिच पर फेंक दिया। मैच के बाद एंडरसन ने अपनी सजा को स्वीकार कर लिया जो मैच रेफरी एंडी पाएक्राफ्ट ने लगायी थी। इसलिये आगे इस मामले में कोई आधिकारिक कार्रवाई नहीं की जाएगी। एंडरसन के खिलाफ मैदानी अंपायर गैफेनी, मरायस एरासमस, थर्ड अंपायर एस रवि और फोर्थ अंपायर रूचिरा पालियागुरूगे ने यह आरोप लगाये थे।

Source : Agency