वास्तु का मानव जीवन से बहुत गहरा संबंध है। माना जाता है कि वास्तु हर तरह से व्यक्ति के ऊपर अपना प्रभाव डालता है। अगर व्यक्ति के घर में किसी संबंधी भी वास्तु दोष उत्पन्न हो जाता है तो उसके जीवन की नैय्या डोलने लगती है। कहने का भाव यह है कि अगर इंसान के जीवन पर वास्तु दोष का साया पड़ जाए तो उसे कई तरह की परेशानियों से गुज़रना पड़ता है। जैसे मानसिक हानि, धन की हानि, घर में झगड़ें होना आदि। तो अगर आपके घर में एेसा कुछ देखने को मिल रहा है तो आपको बता दें कि इसकी वजह घर का वास्तु दोष सकता है, जिसके कारण आपकी जीवन में समस्याएं पैदा होती हैं।

  • वास्तु के अनुसार दक्षिण, उत्तर-पश्चिम और उत्तर-पूर्व दिशा को पैसों की दिशा माना जाता है। ऐसे में अगर इस दिशा में किसी प्रकार का दोष होता है तो व्यक्ति को बहुत सी परेशानियां का सामना करना पड़ता है।
  • उत्तर-पूर्व दिशा को भी धन की दिशा कहा जाता है। एेसा कहा जाता है कि जिस घर में इस कोने पर गंदगी पाई जाती हो वहां पर कभी पैसा नहीं टिक पाता। हमेशा किसी न किसी कारण से पैसों की तंगी रहती है।
  • जिन घरों में उत्तर-पूर्व की दिशा में अंधेरा रहता है वहां पर भी लगातार पैसों की हानि होती रहती है। घर के इस कोने में लक्ष्मी का निवास स्थान माना गया है।
  • दक्षिण दिशा को यम की दिशा मानी जाती है। इसलिए इस दिशा में कभी भी तिज़ोरी नहीं रखनी चाहिए।
  • वास्तु के मुताबिक घर के बीच में भारी सामान, सीढ़ियां, शौचालय होने पर कई तरह की आर्थिक और मानसिक परेशानियों का सामना करना पड़ता है। इसलिए जितनी जल्दी हो सके इस स्थान को तुरंत सही करवा लें।
  • कभी भी घर की उत्तर-पूर्व दिशा में किचन नहीं बनवाना चाहिए। इस दिशा में किचन होने पर घर के सदस्यों को आर्थिक परेशानियां होने लगती हैं।
Source : Agency