मां गंगा का पवित्र जल जीवन के आरंभ से लेकर जीवन के अंत तक हर तरह के कार्यों में काम आता है। गंगा स्नान से पाप तो दूर होते ही हैं, साथ ही कई रोगों से भी मुक्ति मिलती है। वास्तु शास्त्र में भी गंगाजल के प्रयोग से कई दोषों को दूर करने के उपाय के बारे में बताया गया है। आइए जानते हैं इनके बारे में।

घर में नियमित गंगाजल का छिड़काव करने से वास्तुदोष दूर हो जाते हैं और सकारात्मक ऊर्जा का प्रवेश होता है। बच्चों को अगर डरावने सपने आते हों तो सोने से पहले उनके बिस्तर पर गंगाजल छिड़क दें। गंगाजल को घर में रखने से हमेशा सुख-संपदा बनी रहती है। गंगाजल अर्पित करने से भगवान शिव प्रसन्न होते हैं। घर को परेशानियों ने घेर रखा है तो गंगाजल को पीतल की बोतल में भरकर उत्तर पूर्व दिशा में रखें। सुबह जब भी घर का मुख्य दरवाजा खोलें तो वहां गंगाजल का छिड़काव अवश्य करें।

Source : Agency