पुणे
टाटा ओपन का खिताब जीतने वाले भारतीय शटलर लक्ष्य सेन इस प्रतियोगिता से मिली लय को प्रीमियर बैडमिंटन लीग (पीबीएल) में जारी रखना चाहते है जहां वह पहली बार टूर्नामेंट में खेल रहे पुणे 7 एसेस टीम का हिस्सा हैं। अल्मोड़ा में जन्में इस युवा खिलाड़ी ने रविवार को फाइनल में थाईलैंड के कुनलावत वितिदसार्न को हराकर टाटा ओपन का खिताब अपने नाम किया था। दो बार के इस जूनियर विश्व चैम्पियन ने कहा कि मैंने कल जो टूर्नामेंट (टाटा ओपन) जीता है उससे निश्चित तौर पर मेरा आत्मविश्वास बढ़ेगा क्योंकि यह सीनियर टूर्नामेंट था और मैं इस लय को पीबीएल में जारी रखना चाहूंगा। पुणे की टीम में सेन के साथ अजय जयराम, प्राजक्ता सावंत और युगल विशेषज्ञ चिराग शेट्टी भी शामिल हैं। ये सभी यहां टीम के लांच कार्यक्रम में मौजूद थे। इस मौके पर फें्रचाइजी के मालिकों में शामिल बॉलीवुड अभिनेत्री तापसी पन्नू भी उपस्थित थीं। सत्रह साल के सेन के लिए चोटिल होने के कारण साल 2018 चुनौती भरा रहा लेकिन उन्होंने वापसी करते हुए जूनियर विश्व चैंपियनशिप में कांस्य पदक हासिल किया। लक्ष्य ने कहा कि मेरे लिये यह मुश्किल साल था। मैं दो बार चोटिल हुआ और फिर वापसी की। मेरे लिये यह सीखने का अच्छा मौका था। जूनियर प्रतियोगिता में मेरा प्रदर्शन अच्छा रहा। चोटिल होने के बाद टूर्नामेंटों में खेलने को लेकर मेरे लिये यह मुश्किल साल था।

Source : Agency