पैरिस
क्रोएशिया और रियल मैड्रिड के मिडफील्डर लुका मोडरिच ने क्रिस्टियानो रोनाल्डो और लियोनल मेसी जैसे सितारों को पछाड़कर फीफा के वर्ष 2018 के सर्वश्रेष्ठ फुटबॉलर का पुरस्कार जीत लिया। पिछले दस साल से इस पुरस्कार पर रोनाल्डो या मेसी का ही कब्जा था। इस बार रोनाल्डो दूसरे, फ्रांस और एटलेटिको मैड्रिड के स्ट्राइकर ग्रिजमैन तीसरे स्थान पर रहे। 


पैरिस सेंट जर्मन के युवा फॉरवर्ड काइलियन एमबापे चौथे और मेसी पांचवें स्थान पर रहे। फ्रांस के ही राफेल वराने सातवें स्थान पर रहे जबकि लिवरपूल के मो. सालाह छठे स्थान पर रहे। मोडरिच ने जीतने के बाद कहा, ‘बचपन में हम सभी के सपने होते हैं। मेरा सपना बड़े क्लब के लिए खेलना और अहम खिताब जीतना था। यह खिताब मेरे लिए सपने से भी बढ़कर है और इसे जीतकर मैं गौरवान्वित महसूस कर रहा हूं।’ एमबापे को सर्वश्रेष्ठ युवा खिलाड़ी की कोपा ट्रोफी मिली। 

पहली बार महिला वर्ग में भी सर्वश्रेष्ठ फुटबॉलर का ऐलान किया गया और लियोन तथा नॉर्वे की स्ट्राइकर अदा हेगेरबर्ग ने बाजी मारी। इटली के फैबियो कानावारो के बाद सबसे उम्रदराज विजेता मोडरिच ने 36 बरस की उम्र में बेहतरीन प्रदर्शन किया। कानावारो ने 2006 में 33 वर्ष की उम्र में यह पुरस्कार जीता था। मोडरिच चैम्पियंस लीग जीतने वाली रियल मैड्रिड टीम का हिस्सा थे। 

मोडरिच उस क्रोएशियाई टीम के भी स्टार थे जिसने विश्व कप फाइनल में पहुंचकर इतिहास रचा। फाइनल में उसे फ्रांस ने 4-2 से हरा दिया था । रोनाल्डो और मेसी इस पुरस्कार के लिए नामित 30 खिलाड़ियों में थे जिनके लिए दुनिया भर के 180 पत्रकारों ने मतदान किया।

Source : Agency