जयपुर
राजस्थान में चुनावी प्रचार के अंतिम चरण में मंगलवार को तीन रैलियां करते हुए पीएम नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस और राहुल गांधी पर जमकर हमला बोला। हनुमानगढ़, सीकर और जयपुर की रैली को मिलाकर राज्य में पीएम मोदी ने कुल 10 रैलियां की हैं। राजनीतिक पंडितों का मानना है कि 10 दिन पहले निराश दिख रही बीजेपी को पीएम मोदी की इन रैलियों से जीत की एक उम्मीद जगी है। पीएम नरेंद्र मोदी की बुधवार को दो रैलियां होनी हैं। पहली रैली पाली के सुमेरपुर में होगी, वहीं दौसा में दूसरी रैली में जनता से बीजेपी के लिए वह वोट मांगेगे।


मोदी ने BJP की गेम में करवा दी वापसी?
इसके बाद जयपुर की चुनावी रैली में पीएम मोदी ने वसुंधरा राजे द्वारा किए गए विकास कार्यों के नाम पर वोट देने की अपील की। 10 दिन पहले जहां राजनीतिक विश्लेषकों को लग रहा था कि कांग्रेस के मुकाबले बीजेपी कमजोर पड़ रही है, वहीं अब उन्हें लगने लगा है कि बीजेपी की गेम में वापसी हो चुकी है।

सट्टा बाजार में बदला BJP का भाव
सट्टा बाजार में भी बीजेपी की हालत को लेकर सकारात्मक रुझान दिख रहे हैं। एक सट्टेबाज ने कहा कि कुछ दिन पहले तक कांग्रेस के 125-130 सीटें और बीजेपी के 45-50 सीटें जीतने पर सट्टा लग रहा था लेकिन अब हालात बदले हैं, अब कांग्रेस 105-110 तो बीजेपी 65-70 सीटों पर भाव दे रही है। बता दें कि राजस्थान में 200 विधानसभा सीटों के लिए 7 दिसंबर को वोट डाले जाएंगे और 11 दिसंबर को नतीजे आएंगे।


राजस्थान में कुछ ऐसे कांग्रेस को घेर रहे मोदी

हनुमानगढ़ में पीएम मोदी ने पंजाबी और सिख परिवारों से भावनात्मक तौर पर जुड़ने के लिए करतारपुर साहिब का मुद्दा उठाया। उन्होंने कहा, 'विभाजन के समय अगर कांग्रेस नेताओं में इस बात की थोड़ी भी समझदारी, संवेदशीलता और गंभीरता होती कि हिन्दुस्तान के जीवन में गुरुनानक देव का स्थान क्या है, तो 3 किलोमीटर की दूरी पर हमारा करतारपुर हमसे अलग नहीं होता। कांग्रेस के नेताओं में सिखों की भावनाओं के प्रति कोई सम्मान नहीं था।'

पीएम का राहुल गांधी पर तीखा हमला
सीकर में भी पीएम मोदी ने 'भारत माता की जय' को लेकर राहुल गांधी पर हमला बोला। उन्होंने कहा, 'कांग्रेस की ओर से एक फतवा आया, मैं अपनी रैली की शुरुआत भारत माता की जय से न करूं। वे ऐसा करने से कैसे रोक सकते हैं, उनको ऐसी बातों पर शर्म आनी चाहिए, यह हमारी मातृभूमि का अपमान है।' बता दें कि इससे पहले राहुल गांधी ने कहा था, 'हर भाषण में मोदी कहते हैं 'भारत माता की जय' और काम करते हैं अनिल अंबानी के लिए.. उन्हें अपने भाषण की शुरुआत करनी चाहिए अनिल अंबानी की जय...मेहुल चौकसी की जय.. नीरव मोदी की जय....ललित मोदी की जय से।'

Source : Agency