छत्तीसगढ़ के कोरिया जिले के मनेंद्रगढ़ में दो दिन पहले मिले एक महिला के अधजले शव के मामले को पुलिस ने सुलझाने का दावा किया है. पुलिस के मुताबिक मृतका के पति ने ही उसकी हत्या की है. इस मामले में मृतका के पति को पुलिस ने संदेह के आधार पर हिरासत में लेकर जब पूछताछ की तो उसने अपना गुनाह कबूल कर लिया. मनेंद्रगढ़ की पुरानी बस्ती इलाके में रहने वाले वासुदेव विश्वकर्मा ने राखी नाम की युवती से ढाई साल पहले प्रेम विवाह किया था.

पुलिस के मुताबिक शुरू में तो वासुदेव और राखी के बीच सब कुछ ठीक-ठाक चल रहा था, लेकिन बीते कुछ दिनों से दोनों के बीच छोटी-छोटी बातों को लेकर विवाद बढ़ने लगा. इस बीच बुधवार को महिला के पति ने योजना बनाकर पत्नी को बोरीडांड घुमाने की बात कही और पत्नी राखी को स्कूटी पर बैठाकर बोरीडांड के जंगल की ओर ले गया. यहां उसने सुनसान इलाके में एक झोपड़ी देखकर पहले वहां अपनी पत्नी को ले गया और फिर धारदार हथियार से उसकी हत्या कर दी.

कोरिया के एसडीओपी अनुज गुप्ता ने बताया कि आरोपी ने गुनाह को छुपाने के लिए साथ लाए पेट्रोल को उसके शरीर पर छिड़क कर आग लगा दी और उसके बाद वहां से अपने घर आ गया. गांव के लोगों ने जब इस बात की जानकारी मनेंद्रगढ़ पुलिस को दी तो उसके बाद पुलिस ने पूरे क्षेत्र में सनसनी फैला देने वाली इस घटना की तहकीकात शुरू की. पहले युवती के शव की शिनाख्त की गई. उसके बाद मृतका के परिजनों से पूछताछ के बाद जब वासुदेव विश्वकर्मा से पूछताछ की गई तो उसने अपना अपराध स्वीकार कर लिया. पुलिस ने इस मामले में मृतका के मोबाइल के कवर, घटना में उपयोग में लाए गए चाकू को जब्त कर आरोपी को न्यायालय में पेश किया, जहां से उसे जेल भेज दिया गया. मृतका भारतीय जनता महिला मोर्चा से जुड़ी हुई थी.

Source : Agency