सिडनी 
मेजबान ऑस्ट्रेलिया ने 3 मैचों की सीरीज के पहले मैच में भारत को 34 रन से हराकर अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 1000वीं जीत दर्ज की। ऑस्ट्रेलिया के 289 रन के टारगेट का पीछा करते हुए भारत जाय रिचर्ड्सन (26 रन पर 4 विकेट) की धारदार गेंदबाजी के सामने रोहित शर्मा (133) के 22वें शतक के बावजूद 9 विकेट पर 254 रन ही बना सका। ऑस्ट्रेलिया के कप्तान आरोन फिंच ने मैच के बाद युवा तेज गेंदबाज जाय रिचर्ड्सन की तारीफ की। फिंच ने कहा, ‘युवा जाय आत्मविश्वास से लबरेज थे। उनका भविष्य उज्ज्वल है। सुधार की हमेशा गुंजाइश रहती है।’ उन्होंने कहा टीम ने सही समय पर विकेट लेकर मैच में दबदबा बनाए रखा। कप्तान ने कहा, ‘हमें पता था कि वे मैच को आखिरी ओवरों तक खींचने की कोशिश करेंगे और हम भाग्यशाली रहे कि विकेट ले सके और उन्हें रोक सके। कोई भी टीम शुरुआत में 3 विकेट गंवाकर दबाव में आ जाएगी और 3 बड़े बल्लेबाजों का विकेट लेना जरूरी था।’ 

उन्होंने बल्लेबाजों की तारीफ करते हुए कहा, ‘उस्मान ख्वाजा और शॉन मार्श की साझेदारी के बाद पीटर हैंड्सकॉम्ब ने शानदार बल्लेबाजी की।’ मैन ऑफ द मैच रहे रिचर्ड्सन ने कहा, ‘बल्लेबाजो को भी श्रेय जाता है जिन्होंने बड़ा स्कोर बनाया लेकिन जैसा फिंच ने कहा कि शुरुआत में 3 विकेट लेना शानदार रहा। कोहली का विकेट मेरे लिए सबसे कीमती था।’ वहीं, भारतीय कप्तान विराट कोहली ने शतकीय पारी खेलने वाले ओपनर रोहित शर्मा की तारीफ करने के साथ ही कहा कि अनुभवी विकेटकीपर बल्लेबाज महेन्द्र सिंह धोनी गलत समय आउट हो गए। विराट ने कहा, ‘रोहित ने शानदार पारी खेली और धोनी ने उनका सही तरीके से साथ दिया लेकिन मुझे लगता है कि हम और अच्छा कर सकते थे। दोनों मैच को काफी आगे तक ले गए जहां से हमारे लिए मौका बन सकता था लेकिन धोनी गलत समय आउट हो गए।’

Source : Agency