भिलाई 
छत्तीसगढ़ के भिलाई में हुए एक ट्रांस्पोर्ट व्यवसाई की हत्या की गुत्थी सुलझाने का दावा पुलिस ने किया है. हत्या के आरोप में पुलिस ने एक युवक को हिरासत में लिया है. आरोपी डायल 112 का आरक्षक है. आरोपी को शक था कि मृतक सूरज सिंग ने उसकी पत्नी का एमएमएस बनाया है. पुलिस को पहले से ही आरोपी आरक्षक पर हत्या का शक था. सख्त पूछताछ पर आरोपी द्वाना अपना गुनाह कबूल करने की बात पुलिस कह रही है.

मिली जानकारी के मुताबिक भिलाई के खुर्सीपार क्षेत्र में 29 जनवरी को टांस्पोर्ट व्यवसाई सूरज सिंग की हत्या हुई थी. इस मामले में पुलिस ने मृतक के घर की पिछली सडक में रहने वाले डायल 112 का आरक्षक राम प्रकाश यादव को हिरासत में लिया है. बता दें कि दोनों एक दूसरे के परम मित्र थे लेकिन पत्नी का एमएमएस बनाने से आरक्षक उससे रंजिश मान बैठा था. 29 जनवरी को अपनी छुटटी के दिन मौका लगते ही आपोरी ने घर जाकर हथौडे से सूरज की हत्या कर दी थी.

पुलिस के अनुसार पहले ही आरक्षक पर हत्या शक था. लिहाजा जब उससे बार-बार पूछताछ की गई तो सारे मामले का खुलासा हो गया. पुलिस ने बताया कि आरोपी ने हथौडे से सूरज सिंग के सिर पर वार कर उसे मौत के घाट उतारा. उसके बाद उस हथौडे को मरोदा पानी टंकी में फेंक दिया था. पुलिस अब आगे की कार्रवाई में जुट गई है.

Source : Agency