लखनऊ 
लोकसभा चुनाव से पहले एक बार फिर राफेल विमान सौदे में कथित गड़बड़ी का मामला चर्चा में है. सुप्रीम कोर्ट में आज राफेल डील पर पुनर्विचार याचिका पर सुनवाई होनी है. केंद्र सरकार की ओर से बुधवार को ही हलफनामा दायर किया गया है, जिसमें बताया गया कि रक्षा मंत्रालय से राफेल के कागजात लीक हुए थे. गौरतलब है कि कांग्रेस पार्टी लगातार राफेल मुद्दे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को घेरती रही है और उनपर चोरी करने का आरोप लगा रही है.

बहुजन समाज पार्टी के संभावित उम्मीदवारों की लिस्ट1. सहारनपुर हाजी फ़ज़लुर्रह्मान
2. बिजनौर इकबाल ठेकेदार
3. मेरठ हाजी याकूब कुरैशी
4. धौरहरा अरशद इलियास सिद्दीकी
5. डुमरियागंज आफताब आलम
6. गाजीपुर अफ़ज़ाल अंसारी
7. भदोही रंगनाथ मिश्र
8. संतकबीरनगर भीष्म शंकर उर्फ़ कुशल तिवारी
9. कैसरगंज संतोष तिवारी
10. अंबेडकरनगर राकेश पांडेय
11. सीतापुर नकुल दुबे
12. प्रतापगढ़ अशोक त्रिपाठी
13. आगरा मनोज सोनी (सु)
14. मिश्रिख डॉ नीलू सत्यार्थी (सु)
15. (सु) मोहनलालगंज सी एल वर्मा
16. (सु) बांसगांव  दूधराम
17. (सु) नगीना गिरीशचन्द्र जाटव
18. (सु) बुलन्दशहर योगेश वर्मा
19. (सु) शाहजहांपुर अमर चन्द्र जौहर
20. (सु) जालौन अजय सिंह पंकज
21. (सु)लालगंज घूराराम
22. घोसी अतुल राय
23. गौतमबुद्ध नगर सतबीर नागर
24. अमरोहा मलूक नागर
25. अलीगढ़ अजीत बालियान
26. फर्रुखाबाद मनोज अग्रवाल
27. हमीरपुर संजय कुमार साहू
28. देवरिया विनोद जायसवाल
29. सुल्तानपुर चन्द्रभद्र सिंह
30. सलेमपुर R S कुशवाहा
31. अकबरपुर निशा सचान
32. फतेहपुर सुखदेव प्रसाद वर्मा 
33. बस्ती राम प्रसाद चौधरी

इन उम्मीदवारों में 6 मुस्लिम, 7 ब्राह्मण,1 क्षत्रिय,1 जाट, 2 गुर्जर,1 भूमिहार, 9 दलित, 3 वैश्य और 4 अन्य पिछड़ा वर्ग से हैं. इस प्रकार अब सिर्फ श्रावस्ती, जौनपुर, आंवला और मछलीशहर (सु) की सीटें ही शेष हैं.

मायावती इस समय बसपा की बड़ी बैठक कर रही हैं. टिकटों की लिस्ट फाइनल कर मायावती दिल्ली आएंगी और यहां से ही लिस्ट को जारी करेंगी. बताया जा रहा है कि मायावती और अखिलेश यादव की साझा रैलियां पश्चिमी उत्तर प्रदेश से शुरू होंगी. बता दें कि अपने कोटे की कुल 38 सीटों में 33 पर बसपा पहले ही प्रभारी घोषित कर चुकी है. अभी तक जारी की गई लिस्ट में सबसे अधिक ब्राह्मण चेहरे हैं.

राहुल गांधी ने कहा कि हमारी सरकार महिला आरक्षण बिल को पास करेगी, जिसके बाद लोकसभा-राज्यसभा-विधानसभा में 33 फीसदी महिलाओं को मौका मिलेगा. इसके अलावा सरकारी नौकरियों में भी महिलाओं के लिए आरक्षण की सुविधा की जाएगी.

Source : Agency