भिलाई
 सरेराह कट्टा से हवाई फायर कर रिकवरी एजेंट से 9.19 लाख की लूट के मामले में पुलिस को बड़ी सफलता मिली है। मामले में पुलिस ने तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है। गुरुवार को दुर्ग संभाग आईजी हिमांशु गुप्ता, डीआईजी रतन लाल डांगी और एसपी प्रखर पांडेय ने बताया कि भिलाई के दो युवकों देवी प्रसाद और मनीष के साथ मुख्य आरोपी उत्तरप्रदेश निवासी संजय उर्फ महेश वर्मा ने मिलकर लूट की पूरी वारदात को अंजाम दिया था।

गठित की थी आठ टीम 
आरोपियों की तलाश करने पुलिस ने 8 टीम गठित की थी। जिसमें से उत्तरप्रदेश गई टीम को घटना को अंजाम देने वाला आरोपी हाथ लगा। दो अरोपियों को पहले ही पकड़कर पुलिस पूछताछ कर रही थी। पकड़े गए आरोपी के पास से पुलिस ने ४ जिंदा कारतूस, एक देशी कट्टा, लूट में प्रयुक्त दुपहिया और १ लाख १० हजार रुपए नकद बरामद किया है।


इन वारदातों को दिया था आरोपियों ने अंजाम
एसपी ने बताया कि मुख्य आरोपी उत्तर प्रदेश निवासी संजय उर्फ महेश इसके पहले भी दुर्ग-भिलाई और रायपुर में साथियों के साथ मिलकर लूट की वारदात को अंजाम दे चुका है। २०१५ में कोहका पेट्रोल पंप में लूट के साथ २०१८ में दुर्ग ईरानी डेरा के पास कलेक्शन एजेंट को लूटकर वह फरार हो गया था।

Source : Agency