वाशिंगटन:

अमेरिका के वर्ष 2016 के राष्ट्रपति चुनाव में रूस के हस्तक्षेप और डोनाल्ड ट्रंप के प्रचार अभियान में उसकी मिलीभगत के आरोपों की जांच करने वाले विशेष अधिवक्ता रॉबर्ट मूलर ने कहा कि ट्रम्प प्रशासन ने विकिलीक्स द्वारा जारी किए गए दस्तावेजों में रूचि दिखाई थी और प्रचार अभियान के सदस्य इसके संस्थापक जूलियन असांजे के साथ सीधा संपर्क में भी थे। करीब दो साल की जांच के बाद मूलर ने 22 मार्च को अमेरिका के अटॉर्नी जनरल विलियम बार को अपनी रिपोर्ट सौंपी थी जिसका लंबे समय से इंतजार किया जा रहा था। इस रिपोर्ट को आज सार्वजनिक किया गया। विपक्षी डेमोक्रेटिक पार्टी ने इस रिपोर्ट को सार्वजनिक करने की मांग की थी।

रिपोर्ट साल 2016 के अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में रूस के हस्तक्षेप और ट्रंप के प्रचार अभियान में उसकी मिलीभगत के आरोपों की करीब दो साल की जांच पर आधारित है। मूलर ने कांग्रेस से कहा था कि जितना संभव हो सकता है, वह इसकी संक्षिप्त रिपोटर् सौंप सकते हैं। इस पर व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव सारा सैंडर्स ने कहा था कि अगला कदम अटॉर्नी जनरल पर निर्भर करता है।

रिपोर्ट में कहा गया है कि ट्रम्प के बेटे का चुनाव प्रचार के दौरान विकिलीक्स के लोगों से फोन पर बात होती थी। इक्वाडोर ने हाल ही में असांजे को दी गई शरण को वापस ले लिया जिसके बाद उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया। इक्वाडोर के राष्ट्रपति ने कहा कि उन्हें ऐसे किसी देश में प्रत्यर्पित नहीं किया जाएगा जहां उन्हें यातना या मौत की सजा का सामना करना पड़ेगा। ब्रिटेन की एक अदालत ने असांजे को जमानत शर्तों का उल्लंघन किए जाने का दोषी पाया। असांजे को सात साल बाद लंदन स्थित इक्वाडोर दूतावास से गिरफ्तार कर लिया गया।

Source : Agency