गाजियाबाद

गाजियाबाद के इंदिरापुरम में एक ही परिवार के चार लोगों की हत्या के मामले में पहली गिरफ्तारी हुई है. पुलिस ने उस मेडिकल स्टोर के मालिक को गिरफ्तार किया है, जिससे आरोपी सुमित ने नींद की गोलियां और ड्रग्स खरीदी थीं. पुलिस ने मेडिकल स्टोर को भी सील कर दिया है. बता दें कि शनिवार देर रात करीब 3 बजे आरोपी सुमित ने अपनी पत्नी और तीनों बच्चों की चाकू से गोदकर हत्या कर दी थी. वो अब भी पुलिस की गिरफ्त से बाहर है.

पुलिस के मुताबिक मेडिकल स्टोर का लाइसेंस 2 साल पहले खत्म हो चुका था. पुलिस ने मेडिकल स्टोर के मालिक मुकेश को एनडीपीएस एक्ट के तहत गिरफ्तार किया है. मुकेश ने पुलिस को बताया है कि उसने सायनाइड तो नहीं दिया, लेकिन वैसी ही कोई ड्रग्स पकड़ा दी थी. पुलिस उसके इस बयान की जांच कर रही है.

वहीं पुलिस ने बताया कि आरोपी सुमित ड्रग्स लेता था. उसने शनिवार की शाम को ही गोलियां खरीदी थीं और उसके घर से एक कोल्ड ड्रिंक की खाली बोतल मिली है. इसी बोतल में नशे की गोलियां मिलाकर पिलाई गई थी, जिसे फॉरेंसिक जांच के लिए भेजा गया है.

क्या है मामला?
शनिवार रात को गाजियाबाद के इंदिरापुरम इलाके में ज्ञान खंड चार स्थित एसएस-175 बी में सुमित नाम के एक आरोपी शख्स ने पारिवारिक विवाद में सोते वक्त अपनी पत्नी अंशु बाला (32), पांच साल के बेटे परमेश और दो जुड़वां बेटियों की चाकू से गोदकर हत्या कर दी. इसके बाद वह फ्लैट बंदकर फरार हो गया.


आरोपी सुमित सॉफ्टवेयर इंजीनियर है. वह बेंगलुरु में जॉब करता था, लेकिन जनवरी में उसकी नौकरी छूट गई थी, जिसके बाद से चिड़चिड़ा हो गया था और परेशान भी था. वहीं उसकी पत्नी अंशु बाला स्कूल टीचर थी. 

Source : Agency